Safar Lyrics in Hindi

Safar Lyrics in Hindi

(सफ़र.. कैसा है ये सफ़र
मंजिलों की ना है कोई खबर) x 2

रास्तों से मेरी गहरी यारी हो गयी
जो फ़र्ज़ से भरा था बस्ता
वो भी खाली हो गया

बुरा है ज़माना
तू चल डगर ना कर अगर मगर
कैसा है ये सफ़र
मंजिलों की ना है कोई खबर

सफ़र.. कैसा है ये सफ़र
मंजिलों की ना है कोई खबर
सफ़र..

पैरों को बांधे बेड़ियाँ
बताये सौ कहानियाँ

बना है तू ढा दे गज़ब
आजमाना है अब इस ज़माने का हर पैंतरा

गुज़र.. ऐसी राह से गुज़र
जी उठे हर घड़ी हर पहर

(सफ़र.. कैसा है ये सफ़र
मंजिलों की ना है कोई खबर) x 2

सफ़र..

Safar Lyrics (English)

Safar.. kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar
safar.. kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar

raaston se meri gehri yaari ho gaai
jo farz se bhara tha basta
wo bhi khali ho gaya

bura hai zamana
tu chal dagar na kar agar magar
kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar

safar.. kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar
safar..

pairon ko baandhe bediyan
bataaye sau kahaniyan

tu roshni tu rang hai
www.lyricsgrabber.com
tu ud rahi patang hai

bana hai tu dha de gazab
aazmana hai ab iss zamane ka har paintra

guzar.. aisi raah se guzar
jee uthe har ghadi har pehar

safar… kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar
safar… kaisa hai ye safar
manzilon ki naa hai koi khabar

safar..

Leave a Comment

Your email address will not be published.