Ek Ladki Bheegi Bhaagi Si Lyrics in Hindi

Ek Ladki Bheegi Bhaagi Si Lyrics in Hindi

एक लड़की भीगी भागी सी
सोती रातों में जागी सी
मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

एक लड़की भीगी भागी सी
सोती रातों में जागी सी
मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

दिल ही दिल में
जली जाती हैं
बिगड़ी बिगड़ी
चली आती हैं

झुंझलाती हुई
बलखाती हुई
सावन की सुनी रात में

मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

एक लड़की भीगी भागी सी
सोती रातों में जागी सी
मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

डगमग डगमग
लहकी लहकी
भूली भटकी
बहकी बहकी

मचली मचली,
घर से निकली
पगली सी काली रात में

मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

एक लड़की भीगी भागी सी
सोती रातों में जागी सी
मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

तन भीगा हैं
सर गीला हैं
उसका कोई पेंच भी ढीला हैं
तनती झुकती,
चलती रुकती,
निकली अंधेरी रात में

मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

एक लड़की भीगी भागी सी
सोती रातों में जागी सी
मिली एक अजनबी से
कोई आगे ना पीछे
तुम ही कहो ये कोई बात हैं

Sun lo, sunata hu tumko kahani
Ek ladki bheegi bhaagi si
Soti raaton mein jaagi si
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Ek ladki bheegi bhaagi si
Soti raaton mein jaagi si
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Dil hi dil mein jali jaati hai
Bigdi bigdi chali aati hai
Dil hi dil mein jali jaati hai
Bigdi bigdi chali aati hai
Jhunjhlaati huyi, balkhaati huyi
Sawan ki sooni raat mein
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Ek ladki bheegi bhaagi si
Soti raaton mein jaagi si
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Dagmag dagmag lehki lehki
Bhooli bhatki behki behki
Dagmag dagmag lehki lehki
Bhooli bhatki behki behki
Machli machli ghar se nikli
Pagli si kaali raat mein
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Ek ladki bheegi bhaagi si
Soti raaton mein jaagi si
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Tann bheega hai, sar geela hai
Uska koyi pench bhi dheela hai
Tann bheega hai, sar geela hai
Uska koyi pench bhi dheela hai
Tanti jhukti, chalti rukti
Nikli andheri raat mein
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Ek ladki bheegi bhaagi si
Soti raaton mein jaagi si
Mili ek ajnabi se
Koyi aage na peechhe
Tum hi kaho yeh koyi baat hai

Leave a Comment

Your email address will not be published.