बारिश Baarish – Sonu Kakkar, Nikhil D’Souza

बारिश Baarish – Sonu Kakkar, Nikhil D’Souza

दिल ये काँच का है
दिल ये काँच का है

पर इसके टूटने की आवाज़ ना
किसी ने कभी सुनी

जितना भी संभालो ये दिल
नहीं है संभलता

दर्द कैसे देखोगे तुम मेरे दिल का
दर्द कैसे देखोगे तुम मेरे दिल का

बारिश में आँसुओं का पता नहीं चलता
बारिश में आँसुओं का पता नहीं चलता

तेरी मेरी कहानी के किस्से बड़े हैं
टूटा है दिल बिखरे हुए हिस्से पड़े हैं

आजा तू आजा है दिल ये पुकारे
पागल सा दिल है ये कौन संभाले
हिन्दी ट्रैक्स डॉट इन
क्यों हो गए तुम मुझसे जुदा

प्यार सच्चा हर किसी को क्यों नहीं मिलता
प्यार सच्चा हर किसी को क्यों नहीं मिलता

बारिश में आँसुओं का पता नहीं चलता
बारिश में आँसुओं का पता नहीं चलता

दिल के दर्दों की दवा होती नहीं है
आँखे मेरी भी बिन तेरे सोती नही है

मोहब्बत जुनून है खत्म हो ना पाए
मिट ना सकेगी चाहे हम मिल ना पाए
अधूरी रही मैं अधूरा तू रहा

क्या वजह है जो तू मुझसे अब नही मिलता
क्या वजह है जो तू मुझसे अब नही मिलता

बारिश में आँसुओं का पता नही चलता
बारिश में आँसुओं का पता नही चलता

null

Leave a Comment

Your email address will not be published.